महंगाई ने आमलोगों का जीना मुश्किल किया, पीएम मोदी अपने कॉरपोरेट मित्रों को फायदा पहुंचाने में व्यस्त

  • एलपीजी सिलिंडर के दाम बढ़ने के कारण उज्जवला योजना के 4 करोड़ से ज्यादा लोगों ने दोबारा सिलिंडर रिफिल ही नहीं कराया
  • ‘आप’ की केन्द्र सरकार से अपील, पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाए

चंडीगढ़. 

आम आदमी पार्टी(आप) ने बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर केन्द्र की भाजपा सरकार को घेरा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जानबूझकर महंगाई बढ़ाने का आरोप लगाया।

मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ‘आप’ पंजाब के मुख्य प्रवक्ता मलविंदर सिंह कंग ने कहा कि आसमान छू रही महंगाई ने आमलोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। देश के करोड़ों लोगों को दो वक्त की रोटी भी ठीक से नहीं मिल पा रही है। करोड़ों लोग भुखमरी और कुपोषण के शिकार हो गए हैं। वहीं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आम लोगों को महंगाई से राहत पहुंचाने के बजाए अपने उद्दोगपति दोस्तों का कर्ज माफ कर उन्हें फायदा पहुंचाने में व्यस्त है।

कंग ने उज्जवला योजना का उदाहरण देते हुए कहा कि गरीब लोगों के जीवन को महंगाई ने इतना परेशानी में डाल दिया है कि उज्जवला योजना के तहत लगभग 9 करोड़ लोगों को मिले गैस सिलिंडर में से 4 करोड़ से ज्यादा लोग अपने सिलिंडर को दोबारा रिफिल ही नहीं करवा सकें, क्योंकि एलपीजी गैस सिलिंडर के दाम 8 साल पहले के 350 रु के मुकाबले आज करीब 1150 रु हो गया है। लेकिन बेहद शर्म की बात है कि मोदी सरकार ने गैस सिलिंडर के दाम कम करने के बजाए उल्टे खाने-पीने की अत्यावश्यक वस्तुओं पर भी जीएसटी लगाकर उसकी कीमते बढ़ा दी है।

कंग ने आम आदमी पार्टी की तरफ से केन्द्र सरकार से पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने की अपील की और कहा कि पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से ट्रांसपोर्टेशन और अन्य खर्चे बढ़ते हैं, जिसका सीधा प्रभाव महंगाई पर पड़ता है। इसलिए केन्द्र सरकार तुरंत पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाए और आम आदमी को महंगाई से राहत पहुंचाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *