दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में होगा राष्ट्रवाद का शंखनाद

  • राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का 2 दिवसीय अधिवेशन 10 सितंबर से, मंथन में हिस्सा लेंगे 10 हजार से ज्यादा कार्यकर्ता


हिसार । राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने आगामी लोकसभा चुनावों की तैयारी का बिगुल बजाते हुए मैदान पकड़ लिया है। इसी के चलते दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में 10-11 सितंबर 2022 को पार्टी की राष्ट्रीय बैठक और राष्ट्रीय अधिवेशन होने जा रहा है। इस अधिवेशन में पार्टी के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शरद पवार सहित महाराष्ट्र राज्य अध्यक्ष श्री जयंत पाटिल, महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री, श्री अजीत पवार, लोकसभा सांसद सुप्रिया सुले, छगन भुजबल, प्रफुल्ल पटेल, नवाब मलिक, एनसीपी छात्र की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया दूहन और नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी यूथ विंग के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री धीरज शर्मा जैसे अनेक कद्दावर नेता हिस्सा लेंगे। इसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार सभी को एकजुट होकर जीत का मंत्र देंगे।

इस भव्य और महत्वपूर्ण अधिवेशन के लिए पार्टी में राष्ट्रीय स्तर पर तैयारी शुरू हो चुकी है, तथा पार्टी के सदस्यों एवं कार्यकर्ताओं ने पूरे जोश के साथ जनाधार संगठित करने के लिए कमर कस ली है।

22 राज्यों से होगा नेताओं और कार्यकर्ताओं का जमावड़ा

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस अधिवेशन में असम ही नहीं, बल्कि उड़ीसा, झारखंड, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात आदि 22 राज्यों से नेताओं और कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटेगी। विभिन्न सामाजिक संगठन सहित सदस्य, आदिवासी समाज एवं समाज के हर वर्ग के लोग इस अधिवेशन में हिस्सा लेंगे।

इतने बड़े पैमाने पर दिल्ली में पहली बार आयोजित हो रहा अधिवेशन

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का यह 8वां राष्ट्रीय अधिवेशन है, जो दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में 11 सितंबर को पहली बार इतने बड़े पैमाने पर आयोजित होगा। पार्टी अध्यक्ष शरद पवार की अध्यक्षता में आयोजित इस अधिवेशन में राष्ट्र स्तर के सभी नेता, पदाधिकारी एवं कार्यकारिणी के पदाधिकारी शामिल होंगे। यह अधिवेशन दिल्ली में पहली बार इतने विशाल स्तर पर आयोजित हो रहा है, जो इस ओर इशारा करता है कि अब राष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी अपने नेतृत्व, कार्यकर्ताओं एवं सदस्यों के साथ राष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए तैयार है।

इस विषय में हिसार (हरियाणा) निवासी पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं एनसीपी छात्र की राष्ट्रीय अध्यक्ष, सोनिया दूहन ने बताया, ‘‘आज हमारा देश एक दोराहे पर खड़ा है। एक तरफ वो लोग हैं, जो राष्ट्र का बंटवारा कर, उसे धर्म, जाति, संप्रदाय में बाँटकर, नफरत फैलाकर अपना राजनैतिक स्वार्थ पूरा करना चाहते हैं। हम ऐसे लोगों के मनसूबों को कभी पूरा नहीं होने देंगे। हम उनके साथ हैं, जो देश से बेरोजगारी मिटाना, कमजोर, वंचितों और महिलाओं को उनका अधिकार दिलाना, तथा राष्ट्र के विकास में मदद करना चाहते हैं। हमारा यह अधिवेशन उन लोगों के लिए है, जो विभाजनकारी ताकतों के खिलाफ एकजुट होना चाहते हैं और साबित करना चाहते हैं कि हम भाईचारे का प्रतीक हैं, हमारे बीच कोई छोटे-बड़े की खाई नहीं है। हम हर खुशी मिलकर बाँटते हैं और हर संकट का सामना मिलकर करते हैं।’’

नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी यूथ विंग के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री धीरज शर्मा ने बताया, ‘‘भारत में अपार प्रतिभा छिपी है। हमारे युवा किसी से कम नहीं, बस उन्हें इंतजार है एक अवसर का। लेकिन आज पूरे देश में बेरोजगारी छाई हुई है। युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा। उन्हें नौकरी के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही हैं। इस स्थिति में परिवर्तन लाए जाने और युवाओं को अवसर दिए जाने की जरूरत है। हमें उनके लिए नौकरियों का सृजन करना होगा, ताकि वो सही दिशा में लगकर देश की उन्नति में अपना योगदान दे सकें।’’

इस राष्ट्रीय अधिवेशन से एक दिन पहले पार्टी के सभी दिग्गज नेताओं के बीच बैठक हो रही है। संभावना है कि इस बैठक में जनसंपर्क मजबूत करने, राजनैतिक प्रस्ताव पारित करने, और आगामी लोकसभा चुनाव की रणनीति व संगठन के विस्तार पर भी बात हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *